Google search console kya hai beginners ke liye complete guide in hindi

Google search console क्या है beginners के लिए complete guide हिंदी में, नमस्कार दोस्तों आज का यह लेख उन लोगो को समर्पित है जो अपनी website को और बेहतर बनाने के लिए google search console को बारीकी से समझना चाहते है।

आज के इस लेख में, मैं आपको google search console के बारे में details में एक-2 features के बारे में step by step बताने वाला हूँ। कि Google search console क्या है। और अपनी website को google के search engine में कैसे बेहतर करें।

तो चलिए शुरू करते है।…..

Google search console kya hai – what is google search console in hindi

Google search console kya hai
Google search console

Google search console गूगल का एक टूल है। जिसकी मदद से यह हमारी website या ब्लॉग का लेखा जोखा रखता है अगर सरल भाषा में कहूँ तो google search console google का एक free tool है जिसकी मदद से आप अपनी website की performance पर नजर रखते है।

और साथ ही में google के search engine में आपकी website कैसा प्रदर्शन कर रही है इसमें कोई error तो नही है और भी बहुत सी चीजों पर आप नजर रख सकते है। अगर google के search engine में website में कोई error आ रही है तो आप उसे google search console की मदद से बहुत ही आसानी से सही कर सकते है।

Google search console – beginners ke liye complete guide in hindi

Google search console में account create करना जरूरी नही है आप किसी भी email I’d से google search console को use कर सकते है। बस Google में आपकी email I’d login होनी चाहिए। उसके बाद आपको अपनी website google search console में submit करनी होगी और google को बताना होगा कि आप ही इस website के ओनर है और अपनी website verify करानी होगी तभी आप google search console को अपनी website के लिए use कर पायेंगे।

Submit and verify your website

Google search console 01

Google search console में अपनी website submit करने के लिए सबसे उपर left sitde corner three line option >> Add property पर click करना है।

Google search console 02

इसके बाद आपके सामने एक new window open होगी जैसा उपर image में दिखाया गया है अब यहाँ पर आपको URL prefix में अपनी website का पूरा URL डालना है जैसे मेरी website का पूरा URL है।
https://www.akdedha.com

Continue पर click करें और आगे बढे। अगले चरण में भी आपके सामने एक न्यू विंडो ओपन होगी। यहाँ पर आपको अपनी website verify करनी होगी google को आपको बताना होगा कि इस website के असली मालिक आप ही है।

Google search console 03

Ownership verify करने के लिए Google आपको 5 method देगा, इन 5 method में से किसी भी एक method के साथ आप अपनी website को verify कर सकते है

आज मैं आपको html tag के जरिये blogger और wordpress दोनों में बनी website को verify करना बताऊँगा। WordPress users के लिए website verify करना बहुत ही सरल है।

Ownership verify करने के लिए सबसे पहले आपको html tag को copy करना है जैसा की उपर image में दिखाया गया है। उसके बाद wordpress dashboard >> Yoast SEO >> General >> webmaster tools >> google verification code, में code paste करना है। और save पर click कर देना है। उसके बाद google search console में जाकर verify पर click करना है। यदि आपने code सही जगह paste किया है तो आपके सामने successful का msg आ जायेगा।

Bloggers के लिए Ownership verify करना wordpress के मुकाबले थोड़ा मुश्किल है Ownership verify करने के लिए सबसे पहले आपको html tag को copy करना है और अपनी theme editor >> header.php >> <head> इसके नीचे html tag को paste करना है और save पर click कर देना है। उसके बाद search console में जाकर verify पर click करना है।

यदि आप Yoast SEO plugin का उपयोग नही करते है तो जो मैंने bloggers के लिए बताया है same आप wordpress के लिए भी ऐसे ही theme editor में जाकर ownership verify कर सकते है।

Overview and Performance

चलिए अब google search console के सभी options के बारे में एक-2 करके जानते है कि इन सभी options का क्या use है। सबसे पहले जानते है overview और performance के बारे में, क्योंकि ये दोनों एक ही है।

Google search console 04

Performance tab पर click करके आप अपनी website की performance देख सकते है कि आपकी website कैसा perform कर रही है। Image के दुआरा आप बहुत अच्छे से देख सकते है। Performance tab के कुछ और भी features है जिनको नीचे विस्तार से बताया गया है।

Total clicks :- इसका मतलब है कि लोगो ने google के search results में आपकी website पर कितनी बार clicks किये है। आपकी website पर organic clicks कितने हुए है। उनके बारे में पूरी details के साथ जानकारी देता है।

Total impressions :- Impressions का मतलब है की आपकी website के URL, website या images को लोगो ने google के search results में कितनी बार देखा है

Average CTR :- इसका मतलब है की कितने प्रतिशत लोगो ने आपकी website पर clicks किये है। average CTR impressions का ही एक percentage होता है।

Average Position :- यह google के search engine में आपकी website की average position बताता है और यह आपके keyword या page की average position भी बताता है।

URL inspection tool

URL inspection tool की सहायता से आप अपने ब्लॉग Post के URL को manualy google में index कर सकते है। साथ ही यह tool URL की details भी बताता है। जैसे – last crawling date, AMP error, index आदि।

Google search console 05
Google search console 06

Manualy URL index करने के लिए सबसे पहले URL inspection tool पर click करे उसके बाद वहाँ पर Post का एक URL paste करे और enter पर click करे उसके बाद आपके सामने एक window open होगी जैसा उपर image में दिखाया गया है। Right side में एक option है Test live URL का, इस पर click करे। अगर आपके सामने URL is available to google ये msg आता है तो समझो आपका URL live हो गया है। यानी index हो गया है।

Index का Coverage tool

Google search console का यह सबसे महत्वपूर्ण tool है। Index coverage tool आपकी website के index page और error page के बारे में बताता है। जब आपकी website पर कोई भी error या warnings आती है तो Google search console आपको उस error या warning के बारे में email के जरिये भी बताता है।

Google search console 07

Error और warning check करने के लिए सबसे पहले coverage पर click करना है उसके बाद आपके सामने एक विंडो ओपन होगी जैसा उपर image में दिखाया गया है। यहाँ पर आपको चार options मिलेंगे।

पहला रेड color में error का option है आपकी website में जितनी भी errors है वो आप यहाँ देख सकते है।

दूसरा options warning का है warning पर click करने के बाद यह आपको yellow color का दिखाई देगा। अपनी website की सभी warnings आप यहाँ देख सकते है।

तीसरा options valid URL का है valid पर click करने के बाद यह green color का हो जाता है। आपकी website के जितने भी valid URL है उनको आप यहाँ देख सकते है।

चौथा options Excluded का है। यहाँ पर आप अपने सभी URL को एक साथ देख सकते है पुराने URL, block URL, error URL, warning URL, crawled URL etc.

Note – जब आप अपनी website की सभी प्रकार की errors को solved कर लेते है तो आपको coverage >> Error status >> Validate fix options पर click करना है google आपके सभी URL को फिर से check करेगा और आपकी सभी error, coverage की list से remove कर देगा।

Sitemaps : Google search console में sitemap submit कैसे करे

Sitemap वह होता है जिसमें हमारी website के सभी URL होते है। इसे google के search console में submit करना बहुत ही जरूरी है अगर आप sitemap submit नहीं करते है तो आपकी website google के search results में नही आयेगी।

Google search console 08

Sitemap submit करने के लिए सबसे पहले आपको google के address bar में अपनी website का पूरा URL paste या type करना है। उसके बाद URL के आगे ये type करे आप उपर image में भी देख सकते है। /sitemap.xml

अब आपके सामने एक new विंडो ओपन होगी उपर google के address bar में सिलेश के बाद यानी आपके domain के बाद में जितना भी parts है उसे copy करें और google search console में sitemap पर click करे और enter sitemap URL में paste करें अगर आपके सामने success का msg आता है तो आपका sitemap submit हो गया है।

Index का Removals tool

Removals की मदद से आप अपनी website के URL को temporary only six month के लिए remove कर सकते हो। आपकी website पर जितने भी बेकार URL है उनको आप इस tool की सहायता से बहुत ही आसानी से remove कर सकते है।

Google search console 09
Google search console 10
Google search console 11

URL को remove करने के लिए सबसे पहले आपको Removals पर click करना है। उसके बाद new request पर click करना है। अगले चरण में आपको Enter URL में URL paste करना है और remove URL only पर tik करके next पर click कर देना है। उसके बाद submit request पर click करना है आपका URL remove हो जायेगा।

Core web vitals

यह tool आपकी website के pages की speed के बारे में बताता है website की speed check करने के लिए core web vitals tool पर click करना है उसके बाद आपके सामने एक विंडो ओपन होगी जहाँ पर आपको दो options मिलेंगे mobile और desktop का, इन दोनों options की report देखने के लिए ओपन report पर click करे आपके सामने आपकी website के pages की speed slow है या fast है सारी report आपको यहाँ से पता चल जायेगी।

Mobile usability

Mobile usability का अर्थ है कि आपकी website mobile friendly है या नही, अगर आपकी website के pages mobile friendly नही होंगे तो google search console की तरफ से आपको error मिलेंगी जिन्हें आप mobile usability पर click करके देख सकते है। और इन errors की वजह से google के search results में आपकी website की रैंकिंग down हो सकती है।

Google search console 12

आज के समय में ज्यादातर लोग mobile का उपयोग करते है इसलिए ज्यादातर searches mobile से ही होते है। इसलिए google उन website को सबसे पहले रखता है जो mobile friendly होती है

mobile usability में जो error आती है वो अधिकांश आपकी website में खराब theme, code, plugin की वजह से आती है। इसलिए mobile friendly theme, plugin का ही उपयोग करे।

Manual actions

Manual actions का अर्थ है कि google ने आपकी website पर किसी प्रकार का actions तो नहीं ले रखा है। आपकी website blacklist या penalized तो नही कर रखी है। अगर कर रखी है तो यह आपके लिए बहुत ही दुःखद समाचार है।

Manual actions पर click करके आप google के दुआरा penalized की गई website की information आप यहाँ से ले सकते है।

Manual actions, google तब लेता है जब कोई illegal activities, spamming और भी कई तरह की activities में शामिल होता है।

जब आप Manual actions से रिलेटेड सभी issues को fix कर लेते है तो आप google search console के manual actions options पर click करके request review button पर click करे google की team आपकी website को फिर से check करेंगे अगर सब कुछ सही हुआ तो आपकी website safe है।

Security issues

Security issues का अर्थ है कि आपकी website पर किसी प्रकार का virus या bug तो नही है जिससे की आपकी website के कारण दूसरे व्यक्ति को effect पढें।

जितने भी आपके visiters है उनको ये effect न करे इसके लिए इस options को आप weekly check करते रहे।

International targeting

अगर आपकी website किसी particular language पर आधारित है जैसे हिंदी या English, तो आप अपनी website के लिए audiences target कर सकते है।
अगर आपकी website hindi भाषा में है तो आप India को target कर सकते है या फिर आपकी website English language में है तो आप US, UK जैसी country को target कर सकते है

अगर आप traffic के लिए दूसरी countries को target करते है और वहाँ से आपकी website पर clicks आते है। तो India के मुकाबले दूसरी countries से traffic आने पर revenue अधिक मिलता है

Google search console 13

Audiences target करने के लिए International targeting >> Country >> select country >> target user in पर tik करके save पर click कर दे।

Audiences target करने से google को आपकी particular audiences के बारे में पता चलता है और google के search results में आपकी website की रैंकिंग को एक boost मिलता है।

Messages

Message पर click करके आप अपने message देख सकते है google search console की तरफ से आपके पास जो mail या message आते है वो आप यहाँ देख सकते है।

URL parameters

URL parameters का हमारे लिए और आप सभी के लिए कोई use नही है ये e-commerce website और business man लोगो के लिए है।

Web tools

Web tools पर click करके आपके सामने google के कुछ tools आ जाते है। जिनका use आप अपने लिए कर सकते है आप इन tools को एक-2 करके check करे और देखें।

Links

Google के हिसाब से traffic को increase करने के लिए अपनी website में linking करना बहुत ही जरूरी है यह google का रैंकिंग फैक्टर है।

आपकी website पर जितने भी links है। उनको आप यहाँ एक साथ देख सकते है यहाँ पर आपको External links, internal links, top linking site and top linking text सभी तरह के links देखने को मिल जायेंगे। किसी भी links की फुल details देखने के लिए more button पर click करें।

Setting

अगर आप अपनी website को google search console से remove करना चाहते है तो setting >> Remove property >> Conferm पर click करके कर सकते है।

Conclusion

इस लेख में आप सभी ने जाना कि Google search console क्या है beginners के लिए complete guide हिंदी में, हमारे ब्लॉग या इस Post से संबंधित हमारे लिए आपका कोई सुझाव या question हो तो हमें comment के माध्यम से जरूर बताये।

यह भी पढें।

Leave a Comment